आठ दिनों से गांव में पसरा अंधेरा ट्रांसफार्मर ख़राब होने से बिजली सेवा ढप्प, अंधेरे में जीवन जीने को हुए मजबूर, यह कैसा है विकास।

\\शिवराम अठ्या\\

बक्सवाहा ब्लॉक अंतर्गत आने वाले सैडारा गांव में बिजली के लिए त्राहि त्राहि।

मध्य प्रदेश में एक तरफ चुनाव को देखते हुए सत्ता पक्ष बिजली के मामले में लोकलुभावन भरी घोषणाएं और छूट देने की बात करती है वहीं बिजली विभाग के अधिकारी और कर्मचारी सरकार की मंशा पर पलीता लगाने में तुले हुए हैं।

मिली जानकारी के अनुसार सैडारा गांव में बीते एक सप्ताह पहले ट्रांसफार्मर ख़राब हो गया था जिसके चलते पूरे गांव की बिजली सप्लाई बंद हो गई ट्रांसफार्मर खराब होने के तत्काल बाद बिजली विभाग को इस समस्या से अधिकारियों को बक्सवाहा के जिम्मेदार पत्रकार द्वारा
लगातार अवगत कराया गया उसके तीन दिन बाद ही विद्युत विभाग की कर्मचारियों द्वारा ट्रांसफार्मर उठा लिया गया था ताकि दूसरा ट्रांसफार्मर रखवाया जा सके।

साहब ट्रांसफार्मर तो ले गए लेकिन आठ दिन बीत जाने के बाद भी अभी तक गांव में अंधेरा पसरा हुआ हैं और लोगों को भारी समस्यायों का सामना करना पड़ रहा है आपको बता दू की ट्रांसफार्मर खराब होने के बाद 48 घंटे में उसे बदलने के निर्देश हैं। लेकिन यहां तो शासन के इस निर्देश पर बिजली विभाग की मानमानी भारी पड़ रही है।

वही दूसरी और बरसात का मौसम होने के चलते जहरीले जीव जंतु का खतरा बना रहता है और साथ ही बच्चों की परीक्षा के चलते उनकी पढ़ाई का भी नुकसान हो रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *